शेयर में गिरावट,शीतलहर,दर्दनाक हादसा,जैन न्यूज़

मुंबई-घरेलू शेयर बाजारों (Stock Market) में पिछले पांच सत्र में भारी गिरावट के कारण BSE पर लिस्टेड कंपनी के मार्केट कैप में करीब 20 लाख करोड़ रुपये की कमी आई हैं। BSE के डेटा के अनुसार पिछले सोमवार (17 जनवरी,2022)को BSEपर लिस्टेड कंपनी का कुल मार्केट कैपिटलाइजेशन (MarketCapitalization) 2,80,02,437.71 करोड़ रुपये पर रहा था।शेयर बाजार में भारी गिरावट के कारण सोमवार (24 जनवरी, 2022) ब्लैक मंडे रहा।को इन कंपनियों का मार्केट कैप 19.5 लाख करोड़ रुपये कम होकर 2,60,52,149.66 करोड़ रुपये पर रह गया था।शेयर बाजार में आई इतनी गिरावट- BSE Sensex 1,545.67 अंक यानी 2.62 फीसदी लुढ़ककर 57,491.51 अंक के स्तर पर बंद हुआ। इसी तरह NSE Nifty 468.05 अंक यानी 2.66 फीसद टूटकर 17,149.10 अंक के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स 17 जनवरी, 2022 को 61,308.91 अंक के स्तर पर बंद हुआ था।इस तरह देखा जाए तो Sensex में पिछले पांच सत्र में 3,817.40 अंक की गिरावट आ चुकी हैं। हर सेक्टर में बिकवाली Stock Market में बिकवाली का दबाव चौतरफा दिखा। बीएसई के सारे सेक्टर लाल निशान के साथ बंद हुए।बाजार के ट्रेंड को हाल के दिनों में मात देने में सफल रियल्टी सेक्टर में भी आज 5.94 फीसदी की टूट देखने को मिली। इतना ही नहीं मेटल्स में 5.03 फीसदी की गिरावट रही। बेसिक मटीरियल्स और Consumer Durables भी 4 फीसदी से ज्यादा लुढ़क गए। इसके अलावा आईटी, टेक, टेलीकॉम, बैंक सहित सारे सेक्टर नुकसान में रहे। Sensex की सभी 30 कंपनियां गिरावट के साथ बंद हुईं। Sensex पर Tata Steel का शेयर सबसे अधिक 5.98 फीसदी तक लुढ़क गया। वहीं, Bajaj Finance, Tech Mahindra और Wipro में भी 5-5 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई। सेंसेक्स की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) को 4 फीसदी से ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा। Tata Group की कंपनी टीसीएस (TCS) के शेयर 1.65 फीसदी के नुकसान में रहे।—————————–पूरे उत्तर भारत में सर्दी की मार, बारिश ने तोड़ा 121 साल का रिकॉर्ड-    नई दिल्ली- पूरे उत्तर भारत में इस बात की चर्चा हो रही हैं कि ठंड बहुत तेज है और ये कब जाएगी? बता दें कि पहाड़ों पर भारी हिमपात और बारिश की वजह से आपको फिलहाल ठंड से राहत नहीं मिलने वाली हैं। मौसम विभाग के अनुसार अगले 2 से 3 दिनों तक आपको विशेष सावधान रहने की ज़रूरत हैं। क्योंकि तापमान गिरकर माइनस 7 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है, यानी ठंड और बढ़ने वाली हैं। इसके अलावा उत्तर भारत में कोहरे और लो क्लाउड यानी बादलों की एक निचली परत बने रहने के कारण सूरज की रोशनी धरती पर नहीं पहुंच रही है, जिससे ठंड बनी हुई हैं। कुल मिलाकर आपको ठंड से अभी कुछ दिन और संघर्ष करना होगा। रिकॉर्ड तोड़ बारिश और पहाड़ों पर भारी बर्फबारी ने पूरे उत्तर भारत को शीत की चादर से ढ़क दिया हैं। दिल्ली-एनसीआर व उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में तो ये हाल हैं कि सारा दिन अलाव के सामने बैठकर गुजर रहा हैं। उधर, दिल्ली के आसपास कोहरे की चादर भी छाने लगी हैं। हालत यह हो गए हैं कि दिन के समय दृश्यता शून्य के बराबर भी पहुंच जाती हैं। इसके अलावा कश्मीर, शिमला, उत्तराखंड के कुछ पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी ने भी जीना मुहाल किया हुआ हैं। इस बार जनवरी के महीने में बारिश ने 121 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, साल के पहले महीने में इससे पहले इतनी बारिश 1901 में हुई थी। आईएमडी के मुताबिक, अब तक 88.2 मिलीमीटर बारश हो चुकी हैं। पालम में 110 मिलीमीटर बारिश हुई। इससे पहले 1989, जनवरी में 73.7 मिलीमीटर बारिश हुई थी। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक हिमालय के इलाके में हल्ली से मध्यम बारिश के कारण से दिल्ली-एनसीआर में आज भी हल्की बारिश की संभावना हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश, हरियाणा, बिहार से पश्चिम बंगाल तक के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती हैं। बारिश के कारण औसतन तापमान में तीन से चार डिग्री तक गिरावट आने की संभावना हैं। इससे गलन व ठंड और भी ज्यादा बढ़ेगी। वहीं छत्तीसगढ़, ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में बारिश की संभावना बनी हुई हैं। उत्तर भारत व पश्चिम भारत की ठंडी हवाओं का असर दक्षिण भारत में भी दिख रहा हैं। राजस्थान के माउंट आबू में पारा -4 डिग्री तक पहुंच गया। इस साल सर्दी के सीजन में मुंबई के मौसम का मिजाज बदला-बदला दिख रहा हैं। अब तक कई बार शहर का न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस के नीचे पहुंच चुका हैं, जिसकी वजह से ठंड महसूस की जा रही हैं। मौसम विभाग के अनुसार रविवार को अधिकतम तापमान सामान्य से 7 कम 23.8 और न्यूनतम तापमान सामान्य से 2 कम 15 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। इसके साथ ही मुंबई में पिछले एक दशक में जनवरी का सबसे कम तापमान रिकॉर्ड किया गया। इससे पहले 2020 में मुंबई में पिछले एक दशक में 17 जनवरी को सबसे कम अधिकतम तापमान 25.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।पिछले साल जनवरी (9 जनवरी 2021) में सबसे कम अधिकतम तापमान 28.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड था। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले सप्ताह में भी मौसम ठंडा हो सकता हैं और न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस तक गिरने की उम्मीद की जा रही हैं। रविवार को मुंबई में सापेक्षिक आर्द्रता 53 प्रतिशत दर्ज की गई।दूसरी तरफ रविवार को बारिश के बाद धूल भरी हवा चली। इसकी वजह से हर तरफ शहर में धूल की चादर बिछ गई और दृश्यता कम हो गई। यही नहीं मुंबई का वायु गुणवत्ता सूचकांक भी खराब स्तर पर पहुंच गया हैं और एक्यूआई 267 रिकॉर्ड हुआ हैं। शहर के कई इलाकों में धूल और धुंध छाई हुई हैं। खास तौर से समुद्री किनारों में आसमान में काले बादल छाए हुए हैं। रात से ही मौसम में नमी बनी हुई हैं। आज मुंबई का अधिकतम तापमान 27 और न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान हैं। आसमान में बादल छाए रहेंगे।भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अधिकारियों ने कहा है कि पाकिस्तान के बलूचिस्तान से धूल भरी आंधी यहां पहुंची हैं यह आंधी एक पश्चिमी ट्रफ और आर्द्र मौसम के कारण उत्पन्न हुआ था। कई घंटों तक इसका असर देखने को मिल सकता हैं। मौसम विभाग के मुताबिक इसके लिए पहले ही अलर्ट जारी कर दिया गया था कि धूल के कारण, मुंबई में दृश्यता कम हो सकती हैं। दूसरी तरफ लोगों ने रविवार को दिन भर ठंड के एहसास साथ साथ धूल की परेशानी झेली। उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में 2 दिन तक कड़ाके की सर्दी पड़ेगी देश के 8 राज्यों में पारा 5 डिग्री तक गिरने के आसार हैं। मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश में 2 दिन मौसम बहुत ही गंभीर रहेगा। घने कोहरे,शीत लहर के अलावा कई जगह बारिश की भी संभावना व्यक्त की गई हैं। उत्तराखंड, हिमाचल, कश्मीर में 4 दिन और बर्फबारी जारी हो सकती हैं। देशभर में जारी ठंड का असर महाराष्ट्र में भी दिख रहा है महाराष्ट्र के पुणे, नाशिक, औरंगाबाद में अधिकतम तापमान 25 डिग्री से कम दर्ज किया गया। व न्यूनतम तापमान 9 डिग्री के आसपास पहुंच गया।मुंबई में भी अगले 2 से 3 दिन ठंड का ज्यादा असर दिखेगा। सांताक्रुज मौसम विभाग के मुताबिक 10 साल बाद मुंबई में इतनी ठंड पड़ी हैं।————————— महाराष्ट्र में दर्दनाक हादसा-  वर्धा- महाराष्ट्र में मंगलवार की सुबह एक बेहद दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई हैं। एक पुल से कार के गिरने की वजह से 7 मेडिकल छात्रों की दर्दनाक मौत हो गई हैं। जानकारी के मुताबिक सभी लोग दवेली से महाराष्ट्र के वर्धा जिले में जा रहे थे। इस हादसे पर पीएम नरेंद्र मोदी ने दुख जताया हैं और मृतकों के निकटतम परिजन को दो लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की हैं। घायलों को 50 हजार का मुआवजा दिया जाएगा।वर्धा के एसपी प्रशांत होल्कर ने बताया कि इस भीषण हादसे में 7 मेडिकल छात्रों की मौत हो गई हैं। हादसे में बीजेपी विधायक के बेटे आविष्कार रहंगदले की भी मौत हो गई हैं। उन्होंने बताया कि सेलसुरा के पास रात करीब साढ़े 11 बजे कार अनियंत्रित होकर हादसे का शिकार हो गई। मरने वाले छात्रों के नाम नीरज चौहान, आविष्कार रहंगदले, नितेश सिंह, विवेक नंदन, प्रत्यूष सिंह, शुभम जैसवाल और पवन शक्ति हैं। आविष्कार रहंगदले बीजेपी विधायक विजय रहंगदले के बेटे थे। यह दर्दनाक हादसा बीती रात 11:30 बजे के आसपास हुआ हैं। जब मेडिकल स्टूडेंट की कार अचानक सड़क से 40 फुट गहरी खाई में गिर गई।बताया जा रहा हैं कि छात्रों की कार की रफ्तार तेज थी और ड्राइवर के नियंत्रण खोने की वजह से सेलसुरा गांव के पास यह हादसा हुआ। गांव के पास नदी के पुल से कार अचानक नीचे गिर गई। जिसकी वजह से छात्रों की दुर्भाग्यपूर्ण मौत हुई हैं। सभी मृतक छात्र वर्धा जिले के सांगवी मेघे मेडिकल कॉलेज के छात्र हैं। ———————- जैन न्यूज़- मीरा भायंदर में हुआ जैन क्रिकेट का टूर्नामेंट-  कल्याण मित्र जैन महासंघ मीरा भायंदर द्वारा आयोजित किया गया कल्याण मित्र जैन क्रिकेट टूर्नामेंट।कल्याण मित्र कप 2022मीरा भायंदर के सम्पूर्ण जैन समाज के युवा के लिए पहली बार क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया गया। जिसमें जैन समाज की 16 टीमो में 176 प्लेयर्स ने भाग लिया। कार्यक्रम का शुभारंभ भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा महाराष्ट्र प्रदेश के उपाध्यक्ष श्री गौरवजी पोरवाल एवम नगर सेवक श्री सुरेशजी खंडेलवाल ने किया।कार्यक्रम शुभारंभ महामंत्र नवकार व राष्ट्रीय गीत से किया गया।टीशर्ट के मुख्य लाभार्थी श्री गौरव जी पोरवाल, सह लाभार्थी AAO MART , TOSS KE BOSS का लाभ श्री राजेन्द्रजी पोरवाल ने लिया। मीरा भायंदर की प्रथम आमदार श्रीमती गीताजी जैन ने अपनी उपस्थिति रखी साथ मे जल्द ही कल्याण मित्र कप जैन समाज की महिला वर्ग के लिए कराने की घोषणा की।भारतीय जनता पार्टी के पूर्व आमदार श्री नरेन्द्रजी मेहता,भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष श्री रविजी व्यास , नगरसेवक श्री पंकजजी पांडे(दरोगाजी), नगरसेवक श्री ध्रुवकिशोरजी पाटिल, नगर सेविका श्रीमती सुनीता जैन, भारतीय जनता पार्टी की महिला जिला अध्यक्ष श्रीमती रीनाजी मेहता, नाकोडा दरबार के संस्थापक श्री मनोजभाई शोभावत, नाकोड़ा तीर्थ के ट्रस्टी श्री सुरेशजी शाह, समाज सेवा सैदव अग्रणी रहने वाले श्री मोहन भाई राजमलजी सिसोदिया, आगम निगम के प्रधान संपादक श्री गजराजजी मेहता श्री भैरव ग्रुप,रवि बी जैन, रवि के जैन ,ईश्वर भाई,श्री चेतनभाई अन्य गणमान्य सदस्यो ने अपनी उपस्थिति दी।बूम बूम क्रिकेट क्लब विजेता रहा व पाटन वोरिर्स उप विजेता बना और तीसरे स्थान पर मेहता समेंशर्स रहा।और सभी 16 टीम का अच्छा सहयोग रहा हैं और सभी कार्यकर्ताओं ने तन मन धन और अच्छा सहयोग करके पूरे कल्याण मित्र कप को सफल बनाया। यह जानकारी हमें मनीष मुनोत ने दी।