राजस्थान, पार्लियामेंट, जैन न्यूज़, सूरत

जयपुर -भजनलाल शर्मा ने राजस्थान के नए सीएम के तौर पर शपथ ग्रहण कर लिया हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह की उपस्थिति में भजनलाल शर्मा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ दीया कुमारी और प्रेमचंद्र बैरवा ने भी मंत्री पद की शपथ ली। उन्हें भजनलाल सरकार में डिप्टी सीएम बनाया गया हैं। भजनलाल शर्मा ने शपथ ग्रहण से पहले अपने माता-पिता का आशीर्वाद लिया। उन्होंने अपने माता-पिता के पैर धोए और फिर सिर झुकाकर आशीर्वाद लिया। इससे पहले भजनलाल शर्मा ने संत मृदुल कृष्ण शास्त्री से सरल बिहारी मंदिर में मुलाकात की। उनका भी आशीर्वाद लिया। आज सीएम भजनलाल का जन्मदिन भी हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री बनने वाले पहले मुख्यमंत्री हैं।भजनलाल शर्मा के मुख्यमंत्री बनने पर उनकी मां गोमती देवी ने भी रिएक्ट किया। उन्होंने कहा कि जनता ने बेटे को बहुत प्यार दिया। मैं प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद देना चाहती हूं, राज्य का विकास होना चाहिए। प्रदेश की जनता ने उन्हें प्यार दिया इसलिए आज वो इस पद तक पहुंचे हैं। भजनलाल शर्मा का आज जन्मदिन है, वो 57 साल के हो गए हैं। मुख्यमंत्री और दोनों उप मुख्यमंत्रियों ने हिंदी भाषा में शपथ ग्रहण किया।भाजपा नेता भजनलाल शर्मा ने राजस्थान के मुख्यमंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ले ली हैं। इस शपथ समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, जेपी नड्डा, नितिन गडकरी और अन्य कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी शामिल हुए। इस दौरान सांगानेर के भाजपा विधायक भजनलाल शर्मा के साथ-साथ दो उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी और प्रेमचंद बैरवा भी शपथ ले ली है। राज्यपाल कलराज मिश्र ने तीनों को शपथ दिलाई। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई। बता दें कि ये कार्यक्रम जयपुर में अल्बर्ट हाल के सामने आयोजित हुआ। कार्यभार संभालने के बाद राजस्थान के डिप्टी सीएम डॉ. प्रेमचंद बैरवा ने कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता यह सुनिश्चित करना होगी कि केंद्र सरकार की योजनाएं पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे। मुझे जो विभाग आवंटित किया जाएगा, उसमें ईमानदारी से काम करूंगा। हम दलितों के उत्थान के लिए काम करेंगे और महिलाओं के खिलाफ अत्याचार रोकने पर भी ध्यान देंगे।गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और अन्य नेता जयपुर में राजस्थान के मनोनीत मुख्य मंत्री भजनलाल शर्मा के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत,वसुंधरा राजे भी शामिल हुई।बीजेपी ने मध्य प्रदेश में ओबीसी, छत्तीसगढ़ में आदिवासी जबकि राजस्थान में ब्राह्मण चेहरे को मुख्यमंत्री बनाया हैं।इस बार छत्तीसगढ़ में बीजेपी ने आदिवासी नेता विष्णु देव साय को मुख्यमंत्री बनाया हैं।जबकि राजस्थान में प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी के तौर पर बीजेपी के पास बड़ा ब्राह्मण चेहरा मौजूद था। लेकिन मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा को बनाया गया हैं। मध्य प्रदेश में मोहन यादव को बीजेपी ने मुख्यमंत्री बना दिया हैं।साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों में यह तस्वीर भी साफ हो सकती हैं कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में पुराने चेहरों की जगह नए चेहरे को आगे लाने से बीजेपी को फ़ायदा होगा या नुक़सान।———————————-संसद को धुआं-धुआं करने वाले का नाम आया सामने-
लोकसभा के अंदर कलर क्रैकर लेकर पहुंचे शख्स का नाम सागर शर्मा बताया जा रहा हैं। सागर के साथ ही कर्नाटक के मैसूर का मनोरंजन भी सदन के अंदर गया था।सदन के बाहर दो लोगों ने तानाशाही नहीं चलेगी का नारा लगाते हुए प्रदर्शन शुरू किया। इनके प्रदर्शन शुरू करते ही पुलिस के जवानों ने हिरासत में ले लिया।इन दो प्रदर्शनकारियों में एक महिला भी थी। इनकी पहचान नीलम (42) निवासी जींद (हरियाणा) के रूप में हुई है। वहीं दूसरे प्रदर्शनकारी की पहचान अनमोल शिंदे (25) निवासी लातूर (महाराष्ट्र) के रूप में हुई हैं। पांचवा साथी ललित झा फरार हो गया था। जो बाद में पुलिस की चरण में आ गया।वे आपस में एक सोशल मीडिया पेज के जरिए जुड़े हुए थे।वे सभी करीब डेढ़ साल पहले मैसूर में मिले थे।उसके बाद उन्होंने संसद में घुसपैठ करने का प्लान बनाया। यही नहीं, आरोपी पहले संसद भवन में रेकी करने भी आए थे। इस दौरान उन्होंने सुरक्षा में चूक होने की गुंजाइश पता की और इसी का फायदा उठाकर 13 दिसंबर को संसद में घुसे सभी आरोपी एक सोशल मीडिया पेज ‘भगत सिंह फैन क्लब’ के जरिए जुड़े थे। ये सभी करीब डेढ़ साल पहले मैसूर में मिले थे। यहां उन्होंने संसद में घुसपैठ करने का प्लान बनाया।इसके अलावा, इन्होंने आपस में बातचीत करने के लिए सिग्नल ऐप का इस्तेमाल किया।इसके जरिए इनक्रिप्टेड कम्युनिकेश की जा सकती हैं, यानी ये बातचीत कोई और नहीं देख सकता। उन्होंने देखा कि संसद में अंदर जाने के समय जूतों की पूरी तरह जांच नहीं की जाती। बस, यहीं से उन्हें अपने कलर स्मोक के कैन जूतों में छिपाने का आइडिया मिला।इसके बाद सभी आरोपी 6 से 10 दिसंबर के बीच भारत के अलग -अलग राज्यों से दिल्ली पहुंचे। वे गुरुग्राम में अपने साथी विक्की के घर पर इकट्ठा हुए।यहां देर रात ललित झा भी उनके साथ शामिल हुआ।वहीं, अनमोल नाम का आरोपी महाराष्ट्र से कलर स्मोक वाले कैन लेकर आया।अनमोल को 13 दिसंबर को संसद के बाहर से गिरफ्तार किया गया।इसी दिन सुबह ये आरोपी महादेव रोड पर एक सांसद के पर्सनल एसिस्टेंट से मिले और संसद में जाने के पास लिए।फिर इंडिया गेट पर कलर स्मोक को आपस में बांट लिया। इसके बाद दोपहर करीब 11 बजे सागर और मनोरंजन संसद भवन में गए। संसद के अंदर अफरा-तफरी के ही समय, ललित झा संसद के बाहर से पूरी घटना का वीडियो बनाता रहा। वो सभी आरोपियों के मोबाइल फोन लेकर वहां से फरार हो गया।फिलहाल इस घटना में शामिल 5  आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं। जांच जारी हैं। भारतीय दंड संहिता(IPC) की ट्रेसपासिंग की धारा 452, आपराधिक साजिश की धारा 120-B, 153, 186, 353 और UAPA की धाराओं 16 और 18 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया हैं। ललित झा ने सबूत मिटाने के लिए सभी मोबाइल तोड़ दिए या जला दिए हैं।राजस्थान के कुचामन के रसिया गांव के पास मेगा हाईवे पर स्थित ढाबे पर तीनों ने रात बिताई और यही चार मोबाइल अलाव में डाल दिए। बचे हुए टुकड़ों को ढाबे से कुछ दूर सड़क के पार फिर से जला दिया। शनिवार रात को दिल्ली पुलिस कुचामन पहुंची और ललित और महेश की निशानदेही पर अलाव के पास से मोबाइल के जले टुकड़े बरामद कर लिए। ललित ने 14 दिसंबर को पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। पूछताछ में फोन को जलाने की बात कबुली थी।————————————————-जैन न्यूज़ -ठाणे (महाराष्ट्र) नगरेमानसरोवर बिल्डिंग में अंजन शलाका -प्रतिष्ठा महोत्सव श्री सुमतिनाथ आदि जिनबिम्बों एवं गुरु गौतम स्वामीजी, राजेन्द्रसूरिजी आदि जिन प्रतिमाओं की अंजनशलाका प्रतिष्ठा के पावन प्रसंग पर आज दि. 11-12-23 को निश्रा दाता गच्छाधिपति आचार्यदेवेश जयानन्दसूरीश्वरजी म. सा. आदि अर्धशताधिक श्रमण-श्रमणी भगवंतो का मानसरोवर परिसर में मंगल पदार्पण हुआ।प्रात: ९ बजे भगवान के च्यवन कल्याणक एवं चौदह स्वप्न का मंगल विधान सम्पन्न हुआ। रात्रि भक्ति में श्री नैतिक मेहता एवं साथीयों ने प्रस्तुत की।मंगलवार दि. 12- 12- 2023 प्रात: ९-३०बजे भगवान का जन्म महोत्सव ५६ छप्पन दिक्कुमारियों का आगमन मेरु महोत्सव कार्यक्रम हुआ।दोपहर 2 बजे अट्ठारह अभिषेक हुआ।रात्रि ७-30 बजे भक्ति भावनादेवांश दोशी – गौतम बारिया एवं साथीगण द्वारा प्रस्तुति की गई।अद्भुत भक्ति संध्या में मानसरोवर अंजन प्रतिष्ठा महोत्सव निमित्त12 दिसंबर 2023,संगीत : गौतम बारिआ एवं देवांश दोशी।13 दिसंबर, 2023 संगीत : ‘नेमरस’ प्रसिद्ध पारस गडा।14 दिसंबर, 2023 संगीत : भाविक शाह एवं हर्षित शाह।15 दिसंबर, 2023 प्रतिष्ठा की संध्या पर भव्य महा आरती हुई
संगीत : मीत मुथा।समय : शाम 7:00 बजे, पूज्य गच्छाधिपति आचार्य श्री जयानंद सूरीश्वरजी महाराजा की पावन निश्रा में दि. 15 दिसंबर, 2023 को 9:15 विशेष प्रवचन (जिनवाणी श्रवण का अनुपम लाभ ना चूकें)10:15 बाजते गाजते जिनालय की ओर प्रस्थान। तत्पश्चात् मंगल मुहूर्त में प्रभु प्रतिष्ठा का महोत्सव मनाया गया।11 बजे सकल श्री संघ की फले चुंदडी निमित गाम जीमन किया गया।स्थल : मानसरोवर, पाँचपखाडी ठाणे (महाराष्ट्र)। निमंत्रक-मुथा नगराजजी तोलाजी परिवार (धाणसा/ठाणे)थे।——————— सकल श्री संघ को भावभरा आमंत्रण-ठाणे नगर में पहली बार 4️⃣ नूतन दीक्षितों की बड़ी दीक्षायें।5️⃣ मुमुक्षुओं को दीक्षा मुहूर्त प्रदान किया जाएगा। मंगलकारी निश्रा गच्छाधिपति आचार्य देवेश श्रीमद् विजय जयानंद सूरीश्वरजी म.सा.विदुषी साध्वीजी श्री मणिप्रभा श्रीजी आदि अर्ध शताधिक श्रमण- श्रमणी भगवंत बडी दीक्षायें- 1️⃣ मुनिराज श्री पार्श्व विजयजी म.सा. (मोक्ष अशोकजी बोहरा- बागोडा/मुंबई)2️⃣ साध्वीजी श्रीशत्रुंजय यशाश्रीजी म.सा (आंचल कुमारी जितेन्द्रजीनागोरी-आहोर /बेंगलोर) 3️⃣ साध्वीजीश्री शौर्य यशाश्रीम.सा(ख़ुशीकुमारीतिलोक चंदजी गांधीमुथा- धुम्बडिया/ठाणे)4️⃣ साध्वीजी श्री उज्जिन्त यशाश्रीजी म.सा.(अदिति कुमारी मुकेशजी रांका-धुम्बडिया/बैंगलोर)।दीक्षा मुहूर्त ग्रहण करेंगे1️⃣ मुमुक्षु सुनिता पुखराजजी बाफना गढसिवाना (राजस्थान)2️⃣ मुमुक्षु शाइना जयंतीलालजी रामाणी (गुड़ा बालोतान/मुंबई/नेल्लोर)3️⃣मुमुक्षु सुमिरन सुरेश जी कांकरीया (मोदरा-गुन्दुर)4️⃣ मुमुक्षु मोनिका भंवरलालजी दरलेशा (मांडोली/विजयवाड़ा)5️⃣मुमुक्षु शालू अरविन्दजी सिंघी(आहोर/गुन्टुर) मगसर सुद 4 शनिवार दि.16-12-2023 प्रातः 9 बजे श्री मुनिसुव्रतस्वामी जैन मंदिर श्री मणिभद्र सभागृह टेंभी नाका– ठाणे मैं कार्यक्रम हुए।निवेदक-जे. के. संघवी(थाने -आहोर)जिनवचन- प्रेमी परिवार। आज हमारे ठाणे निवास पर मोदरान एंव आहोर दिक्षाथीऀ बहनों का बहुमान करने का लाभ प्राप्त हुआ। संघवी भंवरलालजी कुंदनमलजी रतनपुरा वोहरा परिवार
मोदरान-ठाणे(मुंबई)।—- सकल श्री संघ को भावभरा आमंत्रण-गृह मंदिर में चल प्रतिष्ठा- मानसरोवर में अंजनशलाका के मंगल विधान के बाद गच्छाधिपति आचार्य श्री जयानन्दसूरिजी म.सा,विदुषी साध्वीजी श्री मणिप्रभाश्रीजी म.सा. आदि श्रमण- श्रमणी भगवंतों के साथ भगवान नमिनाथ का हमारे गृह आँगन में पदार्पण होगा एवं पूज्यश्री के वरद् हस्तों से चल प्रतिष्ठा सम्पन्न होगी।सकल संघ के साथ वाजते-गाजतेमानसरोवर से शुक्रवार दि. 15-12-23 को प्रात: 8-15 बजे प्रस्थान होकर हमारे गृह आंगन 501, सुव्रत अपार्टमेन्ट,भवानी चौक, टेंभी नाका- थाने आए।निवेदक-के. के. संघवी (आहोर/थाने) थे।———–भव्यातिभव्य उजमणा-दर्शन व अनुमोदना का लाभ लेवें!हमारे पौत्र के विवाह निमित्त दर्शन-ज्ञान व चारित्र के उपकरणों काउद्यापन (उजमणा) रखा गया हैं।शनिवार- रविवार। दि. 16-17 दिसम्बर 2023।स्थान – शंखेश्वर पार्श्वनाथ जिनालय परिसर ,जैन मंदिर – टेम्भी नाका – ठाणे।निवेदक- जे. के. संघवी, जिनवचन-प्रेमी परिवार (आहोर-थाने)।——————सूरत में डायमंड मार्केट और एयरपोर्ट का उद्घाटन-नई दिल्ली- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सूरत और वाराणसी के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे। वह 17 दिसंबर को सुबह करीब 10:45 बजे सूरत एयरपोर्ट पर नई इंटीग्रेटेड टर्मिनल बिल्डिंग का उद्घाटन करेंगे।सुबह करीब 11:15 बजे प्रधानमंत्री सूरत डायमंड बोर्स का उद्घाटन करेंगे। सूरत इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर नई बनी इंटीग्रेटेड टर्मिनल बिल्डिंग पीक आवर्स के दौरान 1200 डोमेस्टिक और 600 इंटरनेशनल पैसेंजर्स को संभालने के लिए डिजाइन की गई हैं।साथ ही इसकी एनुअल पैसेंजर हैंडलिंग क्षमता 55 लाख तक बढ़ रही हैं। इंटीग्रेटेड टर्मिनल बिल्डिंग को सूरत की स्थानीय संस्कृति और विरासत के साथ डिजाइन किया गया हैं। उन्नत टर्मिनल भवन के अग्रभाग पर सूरत शहर के ‘रांदेर’ क्षेत्र के पुराने घरों की समृद्ध और पारंपरिक लकड़ी के काम को दर्शाया गया हैं, ताकि यहां आने वाले यात्री शहर के बारे में कुछ अनुभव लेकर जाएं। सूरत हवाई अड्डे का नया टर्मिनल भवन GRIHA IV मॉडल के तहत बनाया गया हैं।इसमें डबल इंसुलेटेड रूफिंग सिस्टम, ऊर्जा बचत के लिए कैनोपी, कम गर्मी बढ़ाने वाली डबल ग्लेजिंग यूनिट, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट और सोलर पावर प्लांट जैसी सुविधाओं से सुसज्जित हैं।पीएम सूरत डायमंड बोर्स का भी उद्घाटन करेंगे।यह हीरे और उससे बने आभूषणों के कारोबार के लिए दुनिया का सबसे बड़ा और आधुनिक केंद्र होगा। यह कच्चे और पॉलिश किए गए हीरों के साथ-साथ आभूषणों के व्यापार का एक वैश्विक केंद्र होगा। डायमंड बोर्स में इम्पोर्ट और एक्सपोर्ट के लिए स्टेट ऑफ द आर्ट कस्टम क्लीयरेंस हाउस, रिटेल ज्वेलरी बिजनेस के लिए ज्वेलरी मॉल, इंटरनेशनल बैंकिंग और सिक्योर वॉल्ट की सुविधा दी गई हैं। सूरत डायमंड बोर्स को 66 लाख स्क्वायर फीट एरिया में बनाया गया हैं। एरिया के हिसाब से ये अब तक सबसे बड़ी ऑफिस बिलडिंग यूएस के पेंटागन से भी बड़ा हैं। एसडीबी में 4,200 से ज्यादा ऑफिस मौजूद हैं, जिन्हें 300 स्क्वायर फीट से लेकर 1,15,000 स्क्वायर फीट के एरिया में बनाया गया हैं। इस बोर्स में 9 टावर हैं, जिसमें हर एक टावर में 15 फ्लोर को बनाया गया है।  इसके बाद पीएम मोदी वाराणसी पहुंचेंगे और करीब साढ़े तीन बजे विकसित भारत संकल्प यात्रा में हिस्सा लेंगे।शाम करीब 5:15 बजे वह नमो घाट पर काशी तमिल संगमम 2023 का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी में 18 दिसंबर को सुबह करीब 10:45 बजे स्वर्वेद महामंदिर जाएंगे, जिसके बाद करीब11:30 बजे एक सार्वजनिक समारोह में इसका उद्घाटन करेंगे।इसके बाद लगभग 2:15 बजे प्रधानमंत्री एक सार्वजनिक समारोह में 19,150 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे।