जैन न्यूज़,फ्री राशन, नेपाल में भूकंप

मणि लक्ष्मी तीर्थ – जैनाचार्य गच्छाधिपति पू. युग भूषण सूरीश्वरजी म.सा. (पू. पंडित महाराज साहेब) ने वसुदेव्य कुटुंबकम की और 2.0 का आयोजन किया था। एक धर्म गुरु के नाते अपने कर्तव्य को समझ कर मैंने जस्ट वर्ल्ड ऑर्डर का निर्माण करने के लिए सुनंदा पॉइंट्स दिए देश के नेतागण सजग बनके इसमें आगे बढ़े ऐसी शुभ मंगल कामना जैन आचार्य गच्छाधीपति पूज्य युगभूषण सूरिश्वरजी म.सा. (पू. पंडित महाराज साहब)। शांति स्नात्र महापूजन मणि लक्ष्मी तीर्थ में संपन्न- निश्रादाता गच्छाधिपति पू. पंडित महाराज़ा श्रीमान् प्रकाशभाई गादिया- कल्पेश गादिया के चिरंजीव युगवीर की वर्षगांठ के निमित्त पर माता-पिता ने एक अनोखी तरह से ‘युगवीर’ को देव गुरु-धर्म का संयोग करवाया।लघु शांतिस्नात्र के द्वि-दिवसीय महोत्सव में नवग्रहपूजन, दिक्पालपूजन आदि के बाद तीर्थंकरों की सुंदर भक्तिस्वरूप इस महोत्सव में “युगवीर” को बड़ी शान से सहभागी कराया गया।साथ में प. पू. गच्छाधिपति श्रीमद्विजय युगभूषण सूरीश्वरजी के आशीर्वाद और पुन्यनिश्रा भी युगवीर को प्राप्त हुई।वर्तमान युग में पश्चिमी कलचर की अंधी दौड में से युग परिवर्तन की दिशा में पहला कदम.यानि।आर्य संस्कृति, न्याय-नीति- सदाचार, मर्यादा, धर्म और अध्यात्म की दिशा में आपका सफर यशस्वी हो, इस मनुष्य भव को देव-गुरु-धर्म की कृपासे आप सफल कर पाएं। ऐसी “युगवीर” को शुभकामनाएं।संगीतकार : श्री जतीनभाई बीद थे।——————————चामराजपेट, बैंगलोर मैं मंत्रो से खुद की रक्षा करना-
– बेंगलुरु-स्पष्ट वक्ता, समाज के सजग प्रहरी आचार्य श्री विमल सागर सूरीश्वरजी म.सा. एवं हजारों जिंदगियों के कुशल मार्गदर्शक गणीवर श्री पद्म विमलसागर सूरीश्वरजी म. सा. आदि श्रमण परिवार का ऐतिहा सिक चातुर्मास श्री शीतल बुद्धि- वीर वाटिका, चामराजपेट, बेंगलुरू में हो रहा हैं। वैचारिक क्रांति और धार्मिक- सामाजिक उन्नति को समर्पित हृदयस्पर्शी प्रवचन हो रहें हैं। आत्मरक्षा- विधान : ॐ परमेष्ठि वज्रपंजर स्तोत्र आत्मरक्षा का प्राचीन विधान हैं। मंत्र- साहित्य का यह अमूल्य अवदान हैं।मात्र शस्त्र- अस्त्रों से ही सुरक्षा नहीं होती, मंत्रों से भी आत्मरक्षा के विधान हो सकते हैं।नवकार महामंत्र और मुद्रा-विधानों से वज्रपंजर स्तोत्र की रचना हुई हैं।यह अत्यंत प्रभावशाली हैं।किसी भी पूजन अनुष्ठान या मंत्र-साधना से पूर्व इसका विधान करना होता हैं।नये साधकों के लिये यह अत्यंत उपयोगी हैं। संगीत की सुरवाली के साथ इसका प्रस्तुतिकरण किया जा रहा हैं।मुद्रा-विधान भी इससे भलिभांति समझे जा सकते हैं।साधना की महत्ता और भव्यता की अनुभूति कर सभी लोग साधना-पथ पर आगे बढ़े, यही मंगल कामना हैं।आचार्य श्री विमल सागर सूरीश्वर जी महाराज साहब की पावन निश्रा में हो रहा हैं। इसके पहले चामराज पेट, बैंगलोर में संतो का सुखद मिलन संवाद हुआ।समाज हितचिंतक, क्रांतिकारी जैनाचार्य श्री विमल सागर सूरीश्वर जी महाराज साहब और ब्रह्मधाम आसोतरा के गादीपति, राजपुरोहित समाज के धर्मगुरु श्री तुलसा रामजी महाराज का सद्भावना मिलन समारोह बहुत ही सुंदर वातावरण में हुआ।बदलते परिवेश में सभी शाकाहारी समाजों की सांगठनिक एकता, परस्पर सद्भावना और संस्कृति रक्षा पर जैनाचार्य श्री ने दिया धारदार वक्तव्य।बैंगलोर में पहली बार सास-बहू, देवरानी-जेठानी, ननद-भाभी के बारे में सेमिनार- 4 नवंबर, शनिवार,को प्रातः 9.00 से 10.30 बजे तक हुआ।
पूज्य क्रांतिकारी विचारक, आचार्य श्री विमल सागर सूरी श्वरजी महाराज साहब एवं गणिवर्य श्री पद्मविमल सागरजी महाराज साहब की कुशल संयोजना में अनूठा आयोजन हुआ।पारिवारिक – सामाजिक हितों को समर्पित एक मर्मस्पर्शी परिवर्तन कारी कार्यक्रम।अनुशीलन के विषय- सास भी कभी बहु थी, कन्या के दो घर, कन्या के चार माता-पिता,हमारे घर ऐसा, तुम्हारे घर ऐसा,पीयर और ससुराल के बीच का द्वंद्व, ननद और भाभी के रिश्ते, देवरानी-जेठानी, दोनों पराये घर की,फिर कौन किससे बढ़कर , कैसे बढ़े नारी जाति का सम्मान ?घर स्वर्ग भी, नरक भी।किसी ने कहा हैं : नारी, तू नारायणी। स्थल :श्री शीतल-बुद्धि-वीर वाटिका, चामराज पेट, बैंगलोर।स्थल -श्री शीतल-बुद्धि-वीर वाटिका, चाम राजपेट, बैंगलोर आयोजक -श्री शीतलनाथ जैन श्वेताम्बर मंदिर ट्रस्ट, चामराजपेट,कल्याण मित्र वर्षावास समिति, बैंगलोर।———————————————— शाकाहारी जीवन ने बदल दी हैं मेरी जिंदगी- विराट कोहली -नई दिल्ली-टीम इंडिया के लिए 2008 में पहला अंतरराष्ट्रीय मैच खेलते समय विराट कोहली गोल मटोल चेहरे वाले एक युवा खिलाड़ी थे। लेकिन अब वह दुनिया के सबसे फीट खिलाड़ियों में से एक हैं। वह न केवल फीट हुए हैं बल्कि टीम के अंदर भी फिटनेस कलचर ले आए हैं, और अन्य खिलाड़ियों के लिए प्रेरणा स्रोत हैं। कोहली अभी मानते हैं कि शाकाहारी बनने के कारण भी उन्हें बहुत लाभ हुआ हैं। उन्होंने पिछले साल शाकाहारी बनने का निर्णय लिया था। कोहली ने ट्वीट किया शाकाहारी बनने के बाद मुझे पता चला कि इतने वर्षों से डाइट के बारे में मेरी जो सोच थी वह बस एक कल्पना भर थी। शाकाहारी बनने के बाद से मुझे जैसा महसूस हुआ वैसा जीवन में पहले कभी नहीं हुआ। आज 5 नवंबर 2023 उनका जन्मदिन भी हैं। वो 35 वर्ष के हो गए हैं।————————– 5 साल तक फ्री में मिलता रहेगा राशन-नई दिल्ली – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के करोड़ों गरीब लोगों को शनिवार को दिवाली का तोहफा दे दिया।उन्होंने केंद्र सरकार की फ्री राशन योजना प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को 5 साल के लिए बढ़ाने का ऐलान किया।इस योजना के तहत देश के करोड़ों गरीब लोगों को सरकार की ओर से राशन मुहैया कराया जाता हैं।योजना के विस्तार का ऐलान ऐसे समय किया गया हैं, जब एक सप्ताह बाद दिवाली का त्योहार हैं।प्रधानमंत्री छत्तीसगढ़ के दुर्ग में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने फ्री राशन स्कीम को पांच साल बढ़ाने का ऐलान किया। छत्तीसगढ़ में इसी महीने चुनाव होने वाले हैं। 90 सीटों वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा के लिए 7 नवंबर और 17 नवंबर को दो चरणों में मतदान होने वाला हैं। ऐसे में पीएम मोदी के ऐलान को चुनावों से भी जोड़कर देखा जा रहा हैं।केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के बाद पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत की थी। कोरोना महामारी के बाद लॉकडाउन समेत कई सख्त पाबंदियां लगाई गई थीं।उससे लोगों की आजीविका पर असर हुआ था। खासकर गरीबों के सामने खाने-पीने का संकट उत्पन्न हो गया था।ऐसे में पीएम मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार ने गरीब आबादी की मदद के लिए फ्री राशन स्कीम की शुरुआत की थी।बताया जाता हैं कि इस योजना का लाभ 80 करोड़ देशवासी उठा रहे हैं।————————————-नेपाल में भूकंप-काठमांडू -पश्चिमी नेपाल में भीषण भूकंप से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही हैं। नेपाली गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि जाजरकोट और रुकुम पश्चिम में अब तक 157 लोगों की मौत की पुष्टि हुई हैं और करीब 200 लोग घायल हुए हैं। उन्होंने कहा कि भूकंप से जाजरकोट जिले में 1,800 घर पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं, जबकि रुकुम पश्चिम में 2,500 घर तबाह हुए हैं।अधिकारियों ने बताया कि भूकंप प्रभावित इलाकों में बेघर हुए लोगों को टेंट, कंबल और खाने-पीने के सामान की सख्त जरूरत हैं। उन्होंने कहा कि हमने सफलतापूर्वक बचाव कार्य किया है और अब हमें तुरंत टेंट, कंबल और खाद्य सामग्री की जरूरत हैं। जाजरकोट जिले के बरेकोट ग्रामीण नगर पालिका के अध्यक्ष ने कहा कि उनके क्षेत्र में भूकंप से 80 प्रतिशत घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं। नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ने दिन में भूकंप प्रभावित इलाकों का दौरा किया और प्रभावित लोगों से मुलाकात की। बाद में उन्होंने कहा, भूकंप प्रभावित इलाके में काफी नुकसान हुआ हैं। सैकड़ों लोग घायल हैं, हजारों घर नष्ट हो गए हैं। हमारी सरकार राहत कार्य में लगी हुई हैं। हमने नेपाली सेना और नेपाली प्रहरी को तैनात किया हैं।सशस्त्र पुलिस बल को सभी घायलों को हेलीकॉप्टर के जरिए अस्पताल पहुंचाने की जिम्मेदारी दी गई हैं। प्रधानमंत्री दहल ने आगे कहा कि आसपास के जिलों से हेलीकॉप्टर के जरिए स्वास्थ्यकर्मियों को चिकित्सा उपकरणों के साथ प्रभावित इलाकों में भेजा जा रहा हैं। हमने खुद अपने हेलीकॉप्टर से घायलों को अस्पताल पहुंचाया। हमारी सरकार पूरी क्षमता के साथ अपनी जिम्मेदारी को निभा रही हैं। रविवार को हमने आपदा प्रबंधन समिति की बैठक के साथ-साथ कैबिनेट बैठक भी बुलाई हैं।नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप मापन केंद्र के अधिकारियों के अनुसार, शुक्रवार रात 11.47 बजे भूकंप आया, जिसका केंद्र जाजरकोट में जमीन के नीचे 10 किलोमीटर की गहराई में था। भूकंप का असर भारत और चीन में भी महसूस किया गया। भारत में भी करीब 40 सेकंड तक झटके महसूस किए गए।इससे पहले, भारत के पीएम नरेंद्र मोदी ने भूकंप के कारण हुई जान-माल की हानि पर दुख व्यक्त किया।